Sunday, April 11, 2021

Jurassic Park: We could probably build Jurassic Park, Says Elon Musk firm Neuralink co founder: एलन मस्क की कंपनी न्यूरालिंक के को फाउंडर का दावा हम चाहते तो बना सकते थे जुरासिक पार्क और डायनासोर


हाइलाइट्स:

  • एलन मस्क की कंपनी का बड़ा दावा, कहा- हम बना सकते थे जुरासिक पार्क
  • न्यूरालिंक के को-फाउंडर ने कहा- 15 साल में बना सकते हैं डॉयनासोर
  • इंसानी दिमाग में चिप लगाने को लेकर विवादों में है न्यूरालिंक

वॉशिंगटन
अमेरिका के टेक्नोलॉजी किंग एलन मस्क की कंपनी न्यूरालिंक ने दावा किया है कि वह चाहती तो जुरासिक पार्क का निर्माण कर सकती थी। न्यूरालिंक के को फाउंडर मैक्स होदक ने कहा कि उनकी कंपनी मात्र 15 साल में डायनासोर को भी बना सकती है। होडक अमेरिकी बिजनेसमैन और टेक्नोलॉजिस्ट हैं, जिन्होंने एलन मस्क के साथ विवादास्पद न्यूरोटेक्नोलोजी फर्म की स्थापना की है।

दिमाग में चिप लगाने को लेकर चर्चा में है यह कंपनी
न्यूरालिंक सूअर के दिमाग में चिप लगाने को लेकर चर्चा में है। इसे लेकर एलन मस्क ने ऐलान भी किया था कि इस साल के अंत तक ब्रेन कंप्यूटर इंटरफेस स्टार्टअप का इंसानी टेस्ट यानी ह्यूमन ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा। मस्क ने इस स्टार्टअप को 2016 में सैन फ्रांसिस्को बे एरिया में शुरू किया था। इसके जरिए अल्जाइमर, डिमेंशिया और रीढ़ की हड्डी की चोटों जैसे न्यूरोलॉजिकल समस्याओं का इलाज किया जाएगा।

जुरासिक पार्क को बनाने का किया दावा
होडक ने 1993 की ब्लॉकबस्टर फिल्म जुरासिक पार्क को लेकर कहा कि उनकी फर्म इस तरह के पार्क की स्थापना कर सकती है। मैक्स होडक ने ट्वीट किया कि हम चाहते तो जुरासिक पार्क का निर्माण कर सकते थे। इसमें आनुवंशिक रूप से प्रामाणिक डायनासोर नहीं होंगे लेकिन 15 साल की ब्रीडिंग और इंजिनियरिंग से सुपर एक्जॉटिक नॉवेल स्पिसीज का निर्माण किया जा सकता है।

पार्क को बनाने की तकनीक पर साधी चुप्पी
होडक ने इस बारे में विस्तार से नहीं बताया कि वे जुरासिक पार्क को कैसे बनाते। उन्होंने उस टेक्नोलॉाजी के बारे में भी कुछ नहीं बताया, लेकिन यह दावा किया कि यह जैव विविधता में मदद कर सकता है। उन्होंने कहा कि जैव विविधता निश्चित रूप से मूल्यवान है, इसका संरक्षण भी जरूरी है। बता दें कि जुरासिक पार्क को 1990 के माइकल क्रिकटन के नॉवेल पर बनाया गया था। इसमें सैम नील, लॉरा डर्न और जेफ गोल्डब्लम ने अभिनय किया था।


फिल्म में बताई गई है डायनासोर की कहानी
इसमें कोस्टा रिका के पास एक द्वीप पर किसी पार्क में डायनासोर को विलुप्त होने से वापस लाने वाले आनुवंशिक वैज्ञानिकों के विनाशकारी परिणामों को दर्शाया गया है। फिल्म में एम्बर में संरक्षित प्रागैतिहासिक मच्छरों से डायनासोर के डीएनए को निकालकर क्लोनिंग को पूरा किया गया था।



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles