Breaking News

يحظر علينا السفر إلى الهنود الأمريكيين: कोरोना संकट में अमेरिका ने लगाया यात्रा प्रतिबंध، भारत में फंसे कई भारतीय-अमेरिकी – العديد من الهنود الأمريكيين تقطعت بهم السبل في الهند بسبب حظرنا


वॉशिंगटन
कोरोनाकोरोना के बेहताशा बढ़ते मामलों के मद्देनजर ने भारत से यात्रियों के आने पर प्रतिबंध लगा है जिससे कई अपने सदस्यों से बिछड़ वे अपने के अंतिम समय में उनसे मिलने उनके अंतिम संस्कार में शिरकत करने के भारत गए थे .

बाइडन प्रशासन का यह प्रतिबंध चार मई से अमल में आ गया है। अमेरिकी विदेश विभाग के मुताबिक ، इस प्रतिबंध से छात्रों ، शिक्षाविदों ، पत्रकारों और कुछ व्यक्तियों को छूट दी गई है। भारत में कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप को देखते हुए यह प्रतिबंध बेमियादी अवधि के लिए लगाया गया है। – तब से، भारत में अमेरिकी दूतावास बंद है। उनके पास स्वीकृत एच -1 बी वीजा है लेकिन उन्हें अपने पासपोर्ट पर मुहर लगवाने और दिल्ली में अमेरिकी मिशन में व्यक्तिगत रूप से साक्षात्कार के लिएाक्षात्कार के लिएाका होगाता

महाजन ने कहा، ‘मैं यहां अपनी दो बेटियों के साथ हूं जो इस मुश्किल वक्त में अपने पिता को याद करती हैं। नाश्विल में रहने वाली पायल पायल ने कहा कि उन्हें नहीं मालूम، की वह कब और कैसे भारत से वापस आकर अपने नौ वर्षीय बच्चे से मिलेंगी। उन्होंने कहा، ‘प्रतिबंध में، खासकर गैर आप्रवासियों और उनके परिवारों को निशाना बनाया गया है। अन्य देशों पर प्रतिबंध का इतिहास देखें तो पता चलता है कि यह महीनों या एक साल तक रह सकता है। –

मुंबई में अभिनव अमरेश फंस गए हैं ، क्योंकि मुंबई में अमेरिकी महावाणिज्य दूतावास बंद कर दिया गया है जिस वजह से वह अपने एच -1 बी वीजा पर मुहर नहीं लगवा सके हैं। जबतक उनके वीजा पर मुहर नहीं लगेगी वह अमेरिका नहीं लौट सकते हैं। ऐसे कई अन्य हैं जो वीजा पर मुहर नहीं लगने की वजह से भारत में फंस गए हैं। भारत में पिछले एक हफ्ते से रोजाना कोरोना वायरस के तीन लाख से अधिक मामले आ रहे हैं।

Leave a Reply