Breaking News

b 52 bombers iran Israel: Video: अमेरिकी B-52 परमाणु बॉम्‍बर्स के साथ उड़े इजरायल के फाइटर जेट, ईरान को सख्‍त चेतावनी – us b 52 bombers fly over middle east in military warning to iran watch video


हाइलाइट्स:

  • अमेरिकी B-52 बॉम्‍बर्स ने रविवार को एक बार फिर से पश्चिम एशिया के आकाश में उड़ान भरी
  • ईरान से तनाव के बीच पिछले 6 महीने में यह अमेरिकी परमाणु बॉम्‍बर्स की सातवीं उड़ान है
  • इजरायल के एफ-15 फाइटर जेट ने भी अमेरिकी बॉम्‍बर्स के साथ उन्‍हें सुरक्षा देने के लिए उड़ान भरी

तेलअवीव
अमेरिकी हवाई ताकत के प्रतीक कहे जाने वाले B-52 बॉम्‍बर्स ने रविवार को एक बार फिर से पश्चिम एशिया के आकाश में उड़ान भरी। पिछले 6 महीने में यह अमेरिकी परमाणु बॉम्‍बर्स की सातवीं उड़ान है। इस ताजा उड़ान में पहली बार हुआ है जब इजरायल के एफ-15 फाइटर जेट ने अमेरिकी बॉम्‍बर्स के साथ उन्‍हें सुरक्षा देने के लिए उड़ान भरी है। ये बॉम्‍बर्स ऐसे समय पर पश्चिम एशिया पहुंचे हैं जब पिछले दिनों ओमान की खाड़ी में इजरायल के एक जहाज में रहस्‍यमय तरीके से विस्‍फोट हुआ था।

ईरान का दावा है कि इस विस्‍फोट में उसका हाथ नहीं है लेकिन इजरायल ने आरोप लगाया है कि इस रहस्‍यमय विस्‍फोट के पीछे ईरान का हाथ है। रविवार की उड़ान के बाद इजरायल की सेना ने कहा कि यह रणनीतिक उड़ान इजरायली और पश्चिम एशिया के आकाश की सुरक्षा के लिए बेहद जरूरी है। इजरायली सेना ने सीधे तौर पर यह नहीं कहा कि इस उड़ान का लक्ष्‍य ईरान था।
ईरान ने इजरायल को दी चेतावनी, कहा- हमला करने की सोची भी तो तेल अवीव और हाइफा को बर्बाद कर देंगे
उत्‍तरी डकोटा स्थित म‍िनोट एयर बेस से उड़ान भरी
बताया जा रहा है कि अमेरिकी बॉम्‍बर्स के साथ सऊदी अरब और कतर के फाइटर जेट ने भी उड़ान भरी। बताया जा रहा है कि इन बॉम्‍बर्स ने अमेरिका के उत्‍तरी डकोटा स्थित म‍िनोट एयर बेस से उड़ान भरी थी। ईरान के साथ तनाव के बीच डोनाल्‍ड ट्रंप के राष्‍ट्रपति रहने के दौरान से ही लगातार इस इलाके में अमेरिकी बॉम्‍बर्स की गश्‍त बढ़ गई है।

इस बीच इजरायल के रक्षा मंत्री बेनी गेंट्ज के ईरान को लेकर दिए गए बयान के बाद दोनों देशों में जुबानी जंग जारी है। अब ईरान के रक्षा मंत्री ने धमकाते हुए कहा कि है अगर इजरायल ने हमला करने की सोची भी तो हम तेल अवीव और हाइफा (हैफा) की जमीनों को समतल बना देंगे। दरअसल, कुछ दिन पहले ही बेनी गेंट्ज ने कहा था कि अगर ईरान ने परमाणु हथियारों को बनाने की योजना पर काम जारी रखा तो इजरायल उसके परमाणु ठिकानों पर हमला करेगा। उन्होंने यह भी कहा था कि उनका देश अपने किसी सहयोगी देशों के सहयोग के बिना भी ईरान पर हमला करने की ताकत रखता है।

ईरान के दुश्मनों से दोस्ती कर रहा इजरायल
I24NEWS की रिपोर्ट के अनुसार, यूएई और बहरीन के साथ इजरायल की अब्राहम संधि के बाद मध्य पूर्व के देशों में रणनीतिक हालात एकदम बदल गए हैं। भले ही सऊदी अरब ने आजतक इजरायल को आधिकारिक मान्यता नहीं दी है। फिर भी वह इजरायली खुफिया एजेंसियों के साथ मिलकर ईरान के खिलाफ रक्षात्मक तैयारियों में जुटा हुआ है।



Source link

Leave a Reply