Breaking News

meghan markle interview: Meghan Markle Prince Harry Interview with Oprah Winfrey over Royal Family of Britain: ब्रिटेन के शाही परिवार के बारे में ओपरा विनफ्रे के साथ मेगन मार्कल और प्रिंस हैरी का इंटरव्यू


वॉशिंगटन/ब्रिटेन
ब्रिटेन का शाही राजघराना मेगन मार्कल के बेटे आर्ची के रंग को लेकर परेशान था। मेगन इस हद तक परेशान हो चुकी थीं कि उनके मन में जिंदगी खत्म करने के ख्याल आते थे। सिलेब्रिटी टॉक शो होस्ट ओपरा विनफ्रे को दिए इंटरव्यू में डचेस और ससेक्स मेगन मार्कल और ब्रिटेन के राजकुमार प्रिंस हैरी ने कई ऐसी बातों से पर्दा उठाया है जो शाही राजघराने में भूचाल ला सकती हैं। CBS पर टेलिकास्ट हुए इस इंटरव्यू को पूरी दुनिया में देखा जा रहा है।

‘आर्ची के रंग पर चर्चा’
हैरी ने ओपरा को बताया कि मेगन के साथ महल में जो हो रहा था उससे उन्हें अपनी मां डायना की याद आई और उन्हें लगा कि इतिहास खुद को दोहरा रहा है। दोनों ने ओपरा के जरिए दुनिया को यह खुशखबरी भी दी कि उनके घर एक बेटी की किलकारी गूंजने वाली है। मेगन ने ओपरा को बताया कि महल में बातें होती थीं कि उनके बेटे आर्ची को प्रिंस का टाइटल नहीं दिया जाएगा और उसे सिक्यॉरिटी नहीं मिलेगी। उसके रंग को लेकर चर्चा होती थी क्योंकि मेगन अश्वेत हैं। हालांकि, ये बातें करने वाले का नाम मेगन ने नहीं लिया।

फंसे हैं प्रिंस चार्ल्स और विलियम: हैरी
हैरी ने ओपरा को बताया कि उनके ऑस्ट्रेलिया के टूर पर मेगन को लोगों के साथ आराम से कनेक्ट करते हुए देख सबको जलन हो रही थी। मेगन ने कहा कि वह शाही परिवार को गौरव महसूस कराना चाहती थीं। हैरी ने अपने पिता प्रिंस चार्ल्स और भाई प्रिंस विलियम को महल में ‘फंसा’ हुआ बताया और कहा कि वे लोग बाहर नहीं निकल सकते जिस संस्था में वह पैदा हुए हैं।

महारानी और केट मिडिलटन संग रिश्ते
मेगन ने ओपरा को बताया कि महारानी एलिजाबेथ का व्यवहार उनके साथ काफी अच्छा था। उनके पहले प्रेस टूर पर महारानी ने मेगन के साथ कंबल भी शेयर किया था। हालांकि, उन्हें महल में हद से रखा जाता था जिसकी तुलना मेगन ने कोविड-19 लॉकडाउन से की। मेगन ने ब्रिटिश अखबारों की उनकी रिपोर्ट्स का भी खंडन किया जिनमें दावा किया गया था उन्होंने प्रिंस विलियम की पत्नी केट को अपनी शादी के मौके पर रुलाया था।

उन्होंने कहा कि केट ने उन्हें फ्लावर गर्ल्स की ड्रेस को लेकर रुलाया था और बाद में इसके माफी भी मांगी थी। केट ने मेगन को फूल और एक नोट भी दिया था। मेगन ने कहा कि ब्रिटिश अखबार ‘हीरो और विलेन’ की कहानी गढ़ने में लगे हुए थे।

जान देने के डरावने ख्याल आते थे: मेगन
मेगन ने ओपरा के सामने अपना दर्द बयान किया कि कैसे राजघराने में रहते हुए उनके मन में सूइसाइड के ख्याल आते थे। उन्होंने कहा, ‘ये बहुत साफ, असली और डरावने ख्याल थे। मुझे अकेला नहीं छोड़ा जा सकता था।’ मेगन ने बताया कि उन्होंने महल के सीनियर अधिकारियों से मदद मांगी लेकिन उनसे कहा गया कि यह देखने में अच्छा नहीं लगेगा। मेगन ने बताया कि शादी के बाद उनका लाइसेंस, पासपोर्ट और क्रेडिट कार्ड जमा कर लिए गए थे जिससे उन्हें कैदी जैसा महसूस होता था।

मां के साथ जो हुआ, वही दोहराता दिखा: हैरी
हैरी ने भी बताया कि उन्हें मेगन की हालत देखकर लगा कि जो उनकी मां डायना के साथ हो चुका था, वही इतिहास दोहरा रहा था। उनका यह डर सोशल मीडिया और रंगभेद से जुड़े तनाव से बढ़ता गया। हैरी ने कहा कि उन्होंने परिवार में मदद मांगी लेकिन किसी ने मदद नहीं की। यहां तक कि उनके पिता चार्ल्स ने उनके फोन उठाने भी बंद कर दिए। हैरी ने बताया कि उन्होंने और मेगन ने शाही परिवार के सीनियर सदस्यों के पद से हटने का फैसला महल और अखबारों के दबाव से परेशान होकर किया। उन्होंने साफ किया कि इसके बारे में महारानी समेत कई लोगों से चर्चा की गई थी।



Source link

Leave a Reply